Breaking News

TMC सांसद ने मोदी को कहा भला-बुरा, स्‍मृति इरानी ने जमकर धोया

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के फैसले से पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी और उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस यानी टीएमसी इतनी खफा है कि बेशक ये मसला खत्‍म हो गया हो लेकिन, दोनों ही दलों के बीच तनातनी जारी है। बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस के बीच तनातनी का आलम ये है कि दोनों ही दल एक दूसरे पर हमला करने का कोई मौका नहीं छोड़ना चाहते हैं। पहले तृणमूल कांग्रेस ने बजट सत्र के बहिष्‍कार का एलान किया था। अब‍ उनके नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधने की कोशिश कर रहे हैं। गुरुवार को तृणमूल कांग्रेस के राज्‍यसभा के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा तो दूसरी ओर शुक्रवार को केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्‍मृति इरानी उनके बचाव में उतर आईं।

तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगाया था कि वो सोशल नेटवर्किंग साइट  ट्विटर पर गाली-गलौज करने वाले लोगों को फालो करते हैं। यानी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ट्विटर पर ट्रोल अकाउंट्स को फाॅलो करते हैं। डेरेक ओ ब्रायन ने ऐसे ही एक यूजर का हवाला भी दिया। लेकिन, शुक्रवार को केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति इरानी ने उसका नाम सदन की कार्यवाही से हटाने की मांग की। डेरेक ओ ब्रायन का आरोप था कि प्रधानमंत्री ट्विटर पर जिन ट्रॉलर्स को फालो करते हैं उनका ताल्‍लुक बीजेपी से है। ब्रायन का आरोप था कि प्रधानमंत्री इस तरह के 26 ट्विटर यूजर्स को फालो करते हैं। जिनका  काम सिर्फ ट्रॉल करना है। ये वो अकाउंट्स हैं जिसके जरिए सांप्रदायिक हिंसा की धमकी दी जाती है।

इस पर केंद्रीय मंत्री स्‍मृ‍ति इरानी ने डेरेक ओ ब्रायन पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्‍होंने सदन में जिन ट्विटर यूजर्स का नाम लिया है वो ना तो कोई सेलेब्रेटी और ना ही कोई बड़ा नेता। वो एक आम आदमी है। स्‍मृति इरानी का कहना है कि देश में हर किसी के पास अभिव्‍यकित की आजादी है। स्‍मृति इरानी ने राज्‍यसभा के सभापति से कहा कि ऐसे में उन नामों को सदन की कार्यवाही से हटा लेना चाहिए जिनका जिक्र डेरेक ओ ब्रायन ने किया है। उधर, ब्रायन ने दावा किया था कि उन्‍होंने जिन 26 अकाउंट्स का हवाला दिया है उसमें दो ऐसे भी अकाउंट्स हैं जिन्‍हें ट्विटर की ओर से खुद सस्‍पेंड किया गया है। ब्रायन ये भी आरोप लगा चुके हैं क‍ि पीएम अपने आवास में सोशल डिजिटल पार्टी में ट्रॉर्ल्‍स को भी बुला चुके हैं।

Loading...

लेकिन, तृणमूल कांग्रेस से राज्‍यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन को स्‍मृति इरानी से करारा जवाब मिलने के बाद उनकी बोलती बंद है। फिलहाल दोनों ही दलों के बीच तनातनी जारी है। शुक्रवार को तृणमूल कांग्रेस के सांसदों ने लोकसभा में भी सरकार के खिलाफ हंगामा किया था। लोकसभा में ये हंगामा तृणमूल कांग्रेस के सांसदों की गिरफ्तारी के खिलाफ किया जा रहा था। दरअसल, सीबीआई ने चिटफंड घोटाले में पिछले ही साल तृणमूल कांग्रेस के दो सांसदों को गिरफ्तार किया था। जिस पर ममता बनर्जी ने आरोप लगाया था कि उनके खिलाफ बदले की कार्रवाई की जा रही है। दरअसल, ममता बनर्जी प्रधानमंत्री के नोटबंदी फैसले से काफी नाराज हैं इस मसले को लेकर उन्‍होंने अपने सबसे धुर विरोधी लेफ्ट से भी हाथ मिला लिया था।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *