Breaking News

सपा के बागी नेता रामपाल यादव ने डिंपल पर लगाए ये बेहद गंभीर आरोप

लखनऊ। यूपी विधानसभा चुनाव 2017 के नजदीक आते-आते सियासी पारा जितना उफान पर है, उतना ही आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी तेज हो चला है। नेताओं ने एक-दूसरे पर आरोप लगाने का सिलसिला और तेज कर दिया है। खासकर पार्टियों से बाहर किये गए बागियों की जुबान आजकल दो धारी तलवार जैसी चल रही है। ऐसा ही गंभीर आरोप लगाने का वीडियो तब सामने आया जब नामांकन का दौर समाप्त हो गया। एक वर्ष पहले समाजवादी पार्टी से बाहर किये गए विधायक रामपाल यादव पहले भी अखिलेश यादव पर गंभीर आरोप लगाते रहे हैं, लेकिन इस बार उन्होंने डिंपल यादव को निशाने पर लिया है और उनके चुनाव में भारी पैमाने पर गड़बड़ी का आरोप लगाया है।
रामपाल यादव इस बार लोकदल से सेउता विधानसभा से प्रत्याशी हैं और उन्होंने दो दिन पूर्व सेउता में एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान रामपाल यादव ने सीएम अखिलेश यादव और उनकी पत्नी डिंपल यादव पर कई गंभीर आरोप लगाए। जिसमें उन्होंने साफ कहा कि डिंपल यादव को लोकसभा चुनाव में जिताने के लिए पूरी सरकारी मशीनरी को एक होना पड़ा था। डीएम को अपनी नौकरी दांव पर लगानी पड़ी थी। तीन घंटे के लिए बिजली बंद कर दी गयी थी और इस दौरान ईवीएम मशीनों को बदल कर उनमें नये सिरे से वोटिंग की गयी थी। तब जाकर डिंपल यादव को जिताया जा सका था, तब ये नौजवान कहां चले गए थे।
rampal yadav patrika.com के लिए चित्र परिणाम
रामपाल यादव ने अखिलेश यादव पर तंज कसते हुए कहा कि अखिलेश ने अपने एक बाप का अपमान किया है और कांग्रेस के 10 बापों को सामने ला दिया है। नेताजी ने अखिलेश से 38 सीटें मांगी थी लेकिन उनकी न सुनी गई और सुनी गयी होती तो उसमें से 30 सीटों पर जीत होती। वहीं कांग्रेस को 105 सीटें दी हैं जो कहीं से नहीं जीत रही। कांग्रेस से हाथ मिलाकर पार्टी का सत्यानाश करने की तैयारी अखिलेश यादव ने कर ली है। कांग्रेस की तुलना अजगर से करते हुए रामपाल ने कहा कि वह सबको निगल जाती है और इसी दौरान बेनी प्रसाद वर्मा का उदाहरण भी दिया। रामपाल यादव ने साफ कहा कि मैं दो बार सपा से विधायक रहा और झीन बाबू 4 बार विधायक रहे, लेकिन उनका टिकट काट दिया गया। हम लोग मिलकर समाजवादियों को हराने का काम करेंगे।
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *