Breaking News

केजरीवाल का बजट पर निशाना, बोले- हमें चंदा कैश मिला तो मोदी-जेटली ने लगवा दी रोक

नई दिल्ली। देश के वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बजट 2017 पेश कर दिया। मंत्री जी पूरे 6251 सेकंड बोलते रहे। बजट से पहले विपक्षी सांसदों ने नारे लगाकर थोड़ा वार्मअप किया और हंगामा करने की परंपरा को जारी रखा। विपक्ष के नारों के बीच जेटली ने बुलेट ट्रेन से भी तेज भाषण पढ़ा। हालांकि उनके भाषण में कई समानताएं दिखी।

कुछ लोगों ने उनके भाषण को शरद पवार से जोड़ा तो कई लोगों ने इसे मुलायम सिंह यादव से जोड़ा। क्योंकि जेटली का भाषण किसी को समझ में नहीं आया। लेकिन कांग्रेस के सबसे पढ़े लिखे सांसद राहुल गांधी ने बजट के बाद कहा कि बजट में कुछ नहीं है। राहुल ने ऐसा इसलिए कहा क्योंकि जेटली ने भाषण में गांधी परिवार का नाम नहीं लिया। हालांकि बजट के दौरान राहुल गांधी नहीं दिखे थे। इस पर कांग्रेस ने सफाई दी है कि वो अपनी फटी जेब को सिलवाने गए हुए थे। वहीं कुछ लोगों ने दावा किया है कि राहुल गांधी को दिल्ली के एक एटीएम से पैसे निकालते देखा गया। भले ही राहुल गांधी को बजट के दौरान कही गई बाते समझ में ना आई हो लेकिन उन्होंने सबको एहसास करा दिया कि मोदी राहुल को बेवकूफ समझने की गलती ना करें।

Loading...

केजरीवाल ने इस बजट को आम आदमी पार्टी विरोधी बताया है केजरीवाल का कहना है कि मोदी सरकार ने चंदा लेने की कैश लिमिट को 2000 कर दिया है जो गलत है। अभी तो उनकी पार्टी को कैश मिलने लगा था। ये बजट पूरी तरह से उनके विरोध में बनाया गया। केजरीवाल इस बजट के विरोध में एक घंटे का फास्ट रखेंगे। उनके इस फास्ट में कुमार विश्वास भी केजरीवाल का साथ देंगे हालांकि उन्होंने साफ किया कि वो फास्ट पर नहीं बैठेंगे। केजरीवाल के अलावा बहन मायावती ने भी बजट के आलोचना की है और कहा है कि जेटली अंग्रेजी में बोल रहे थे ताकी वो इसे समझ ना सकें। बजट को ना समझने के बाद भी बहन मायावती ने कहा कि बजट में खास कुछ नहीं है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *