Breaking News

इन्फोसिस मर्डर: महिला इंजिनियर ने गार्ड को दी थी शिकायत करने की चेतावनी, बन गई मौत की वजह

मुंबई। रविवार को पुणे में एक और महिला इंजिनियर की हत्या के पीछे की जो कहानी सामने आई है वह किसी को भी परेशान कर सकता है। दरअसल केरल की रहने वाली मृतक रसिला राजू ने आरोपी गार्ड भबेन सैकिया के खिलाफ शिकायत करने की बात कही थी। इसी से चिढ़कर गार्ड ने कंप्यूटर केबल से गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी थी। मृतका रसीला राजू इन्फोसिस के पुणे कैंपस में सिस्टम इंजिनियर थीं। मर्डर के शक से बचने के लिए गार्ड अपनी शिफ्ट पूरी होने तक ऑफिस में ही रहा। शिफ्ट के बाद वह शहर से भागने की फिराक में था लेकिन मुंबई रेलवे स्टेशन पर पुलिस ने उसे दबोच लिया।

जीपीएस सिस्टम के जरिए पुलिस को उसकी लोकेश मुंबई रेलवे स्टेशन की मिली। पुणे पुलिस ने मुंबई रेलवे पुलिस से कॉन्टैक्ट किया और वाट्सऐप से आरोपी की फोटो पुलिस को पहुंचा दी। रेलवे पुलिस ने रात 2 बजे आरोपी को प्लेटफॉर्म नंबर 18 से गिरफ्तार किया। वह सोमवार सुबह गोमती एक्सप्रेस से अपने होमटाउन भागने की फिराक में था। पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में आरोपी ने मर्डर की बात स्वीकार की है। उसने पुलिस को बताया कि रसीला राजू ने उसके खिलाफ अपने बॉस से शिकायत करने की धमकी दी थी, इसलिए उसने रसीला का मर्डर किया। पुलिस तहकीकात में सामने आया है कि आरोपी रोज मृतका को घूरा करता था, जिससे परेशान होकर उसने आरोपी को धमकी दी थी कि वह उसकी शिकायत अपने बॉस से करेगी। रविवार की रात रसीला को ऑफिस में अकेला पाकर आरोपी ने उससे बात करने की कोशिश की, लेकिन वह केबिन में नहीं जा सकता था, क्योंकि केबिन में एंट्री के लिए स्पेशल ऐक्सेस कार्ड का प्रयोग किया जाता है, जो केवल स्टाफ के पास मौजूद थे, सिक्यॉरिटी गार्ड के पास भी केबिन का ऐक्सेस नहीं था। ऐसे में आरोपी ने मृतका से केबिन के अंदर आने के लिए बहाना बनाया कि उसे कंप्यूटर सिस्टम्स के कोड नोट करने करने है, इसलिए वह अपने ऐक्सेस कार्ड के जरिए उसे अंदर आने दे।

Loading...

इस पर रसीला ने आरोपी को केबिन में एंट्री दे दी। अंदर आने पर आरोपी ने रसीला से शिकायत न करने की बात कही, उसके न मानने पर भबेन ने कंप्यूटर केबल से उसका गला घोट दिया। रसीला वाकई मर चुकी है या नहीं, यह जानने के आरोपी ने कई बार उसके चेहेर को दागा। पुणे पुलिस को सीसीटीवी कैमरा फुटेज में आरोपी को मृतका के केबिन में देखकर शक हुआ। जहां से रसीला बेंगलुरु में अपने सीनियर्स से कोऑर्डिनेट कर रही थी। जब काफी देर तक रसीला ने उन्हें कोई जवाब नहीं दिया तो उन्होंने स्टाफ से इस बारे में जानकारी मांगी और तब रसीला के मर्डर का खुलासा हुआ।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *