Breaking News

IPS अमूल्‍य पटनायक होंगे दिल्‍ली पुलिस के नए कमिश्‍नर, गृह मंत्रालय ने जारी किया आदेश

नई दिल्ली। दिल्‍ली पुलिस के नए कमिश्‍नर के नाम को लेकर चला आ रहा सस्‍पेंस अब खत्‍म हो गया है। अमूल्य पटनायक दिल्ली पुलिस के नए कमिश्नर होंगे। उनकी नियुक्ति के संबंध में गृह मंत्रालय ने आदेश भी जारी कर दिया है। अमूल्‍य पटनायक आलोक वर्मा की जगह लेंगे। आलोक वर्मा को केंद्रीय जांच ब्‍यूरो यानी सीबीआई का प्रमुख बनाया गया है। अमूल्‍य पटनायक 1985 बैच के आईपीएस अफसर हैं। वो अरुणाचल प्रदेश-गोवा-मिजोरम और केंद्र शासित प्रदेश कैडर यानी AGMUT कैडर के आईपीएस अफसर हैं। यहां ये देखना भी काफी दिलचस्‍प होगा कि उनका रिश्‍ता दिल्‍ली सरकार के साथ कैसा रहता है। दरअसल, जब से दिल्‍ली में आम आदमी पार्टी की सरकार रही है पुलिस और सरकार के रिश्‍ते में काफी कडवाहट देखने को मिली है।

बहरहाल, अमूल्‍य पटनायक अभी तक दिल्‍ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर एडमिनिस्ट्रेशन थे। इससे पहले दिल्‍ली पुलिस कमिश्‍नर की रेस में कुल तीन अफसरों के नाम चल रहे थे। जिसमें 1984 बैच के आईपीएस अफसर दीपक मिश्रा और धर्मेंद्र कुमार का भी नाम शामिल था। लेकिन, इन दोनों ही अफसरों की वरिष्‍ठता को दरकिनार करते हुए गृहमंत्रालय ने अमूल्‍य पटनायक के नाम पर मुहर लगा दी। अमूल्‍य पटनायक अगले तीन साल तक दिल्‍ली पुलिस के कमिश्‍नर पद पर रहेंगे। इससे पहले पटनायक पुड्डुचेरी के एसएसपी भी रह चुके हैं। इतना ही नहीं, वो डीसीपी साउथ और डीसीपी ईस्ट भी रह चुके हैं। इसके अलावा पटनायक दिल्‍ली में ज्वाइंट कमिश्‍नर सदर्न रेंज के पद भी रह चुके हैं।

पटनायक को ज्वाइंट सीपी क्राइम और ज्वाइंट सीपी ऑपरेशंस का भी तर्जुबा है। इतना ही नहीं वो बतौर स्पेशल सीपी विजिलेंस, आईजी एसपीजी, डीजीपी मिजोरम के तौर पर भी काम कर चुके हैं। अमूल्‍य पटनायक को साल 2002 और साल 2009 में सराहनीय और विशिष्ट सेवा के लिए सम्‍मानित भी किया जा चुका है। कहा जाता है कि ज्‍वाइंट सीपी रहते हुए इन्‍होंने क्राइम इंवेस्‍टीगेशन को नई ऊंचाईयों पर पहुंचाया था।मुंबई ब्लास्ट केस में दो लाख इनामी आरोपी को पकड़ने का श्रेय पटनायक की टीम को ही जाता है। इसके अलावा उन्‍होंने अपने कार्यकाल में किडनैपिंग, मर्डर और लूटपाट की कई सनसनीखेज वारदातों का भी खुलासा किया है। सबसे बड़ी बात ये है कि उनका कार्यकाल बेदाग रहा है।

Loading...

माना जा रहा है कि अमूल्‍य पटनायक दिल्‍ली पुलिस के कमिश्‍नर पद की जिम्‍मेदारी को बखूबी निभाएंगे। हालांकि इससे पहले खबर ये भी कि दीपक मिश्रा को इस पद की कमान मिल सकती है। लेकिन, एन वक्‍त पर उन्‍होंने बाजी मार ली। उनके लिए गृह मंत्रालय और दिल्‍ली सरकार को साथ लेकर चलने की भी चुनौती होगी। दरअसल, दिल्‍ली पुलिस गृह मंत्रालय के अधीन आती है। ऐसे में हमेशा से दिल्‍ली सरकार और दिल्‍ली पुलिस में टकराव देखने को मिलता रहा है। सबसे ज्‍यादा टकराव उस वक्‍त देखने को मिला था। जब दिल्‍ली पुलिस के कमिश्‍नर बीएस बस्‍सी हुआ करते थे। हालांकि इसके बाद तिहाड़ के डीजी रहे आलोक वर्मा को इस पद की जिम्‍मेदारी दी गई थी। लेकिन, कभी भी उनके साथ दिल्‍ली सरकार का कोई टकराव नहीं हुआ।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *