Breaking News

आंध्र प्रदेश में हीराखंड एक्सप्रेस हादसे के पीछे साजिश?

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश के विजयनगरम जिले में जगदलपुर-भुवनेश्वर हीराखंड एक्सप्रेस शनिवार रात पटरी से उतर गई। हादसे की वजह क्या थी, इस फिलहाल पता नहीं चल पाया है। हालांकि, रेल मंत्रालय के सूत्रों ने हादसे के पीछे पटरियों को नुकसान पहुंचाए जाने या किसी किस्म की तोड़फोड़ की आशंका को खारिज नहीं किया है।

सूत्रों के अनुसार, एक मालगाड़ी इसी पटरी से सुरक्षित ढ़ंग से निकल गई थी। गश्त करने वाले व्यक्ति ने भी पटरी की जांच की थी। हालांकि ट्रेनचालक को ट्रेन के पटरी से उतरने से ठीक पहले किसी पटाखे जैसी आवाज सुनाई दी थी। ऐसा लगता है कि पटरी पर बड़ी दरार पड़ी होगी, जिसके कारण ट्रेन पटरी से उतर गई। सूत्रों ने कहा, ‘इस इलाके के नक्सलवाद से प्रभावित होने के कारण और गणतंत्र दिवस के करीब होने के कारण पटरी के साथ छेड़छाड़ किए जाने की प्रबल आशंका है। साजिश के संदेह से इनकार नहीं किया जा सकता।’

Sabotage not ruled out in derailment, says Railway Ministry sources

Sabotage not ruled out in derailment, says Railway Ministry sources

बता दें कि नवंबर में कानपुर में हुए ट्रेन हादसे में पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई द्वारा साजिश रचे जाने की बात सामने आ चुकी है। बिहार के मोतिहारी में गिरफ्तार आरोपियों में से एक ने कबूल किया है कि कानपुर में ट्रेन हादसे की साजिश रची गई। इससे पहले, बिहार में भी प्रेशर कुकर बम के जरिए ट्रेन को पटरी से उतारने की कोशिश की गई थी। हालांकि, गांववालों की सतर्कता की वजह से आरोपी हादसे को अंजाम नहीं दे पाए। कानपुर में 20 नवंबर 2016 को इंदौर-पटना एक्सप्रेस पटरी से उतर गई थी, जिसमें करीब 150 लोगों की मौत हो गई थी।

बता दें कि कुछ वक्त पहले ही कानपुर के नजदीक मंधना में कुछ अज्ञात लोगों द्वारा ट्रैक काटे जाने की खबर से हड़कंप मच गया था। नारामऊ-मंधना स्टेशन के बीच कुछ अराजक तत्वों ने ट्रैक की 40-50 क्लिप्स के अलावा जॉगल प्लेट्स खोल दी थीं। पटरी को भी काटा जा रहा था, लेकिन पट्रोलिंग टीम को देखकर कई लोग भाग निकले।

आंध्र प्रदेश में हुए ताजा रेल हादसे पर रेलवे ने किसी किस्म की साजिश की आशंका को खारिज नहीं किया है। रेलवे प्रवक्ता अनिल सक्सेना ने कहा है कि हादसे की वजह की जांच सभी एंगल्स से की जा रही है। उन्होंने कहा, ‘अगर किसी किस्म की असामान्य गतिविधि हुई है या ट्रैक के साथ छेड़छाड़ हुई है तो इस बात की जांच की जाएगी। कमिश्नर रेलवे सेफ्टी इस मामले की जांच करेंगे। वह मौके का दौरा करेंगे।’

View image on Twitter

Cause to be investigated from all angles. If there was any unusual activity, or tampering with track, it will be probed:Anil Saxena,Railways

Loading...

Cause to be investigated from all angles. If there was any unusual activity, or tampering with track, it will be probed:Anil Saxena,Railways

मौके के लिए रवाना हुए प्रभु
रेल मंत्री सुरेश प्रभु और रेलवे बोर्ड के चेयरमैन एके मित्तल भी घटनास्थल पर जाने के लिए रवाना हो चुके हैं। उधर, पीएम नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट करके हादसे पर दुख जताया। उन्होंने कहा कि रेलवे मंत्रालय पूरे मामले पर बेहद करीब से नजर रखे हुए है। राहत और बचाव सुनिश्चित करने के लिए काम जारी है।

The Railway Ministry is monitoring the situation very closely and is working to ensure quick rescue and relief operations: PM @narendramodi

I pray for a speedy recovery of all those injured due to the train accident: PM @narendramodi

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *