Breaking News

बीजेपी के स्टार प्रचारकों की लिस्ट से आडवाणी, पर्रिकर और वरुण गांधी ‘आउट’, योगी ‘इन’

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को देखते हुए अपने स्टार प्रचारकों का ऐलान कर दिया. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने शनिवार को पहले और दूसरे चरण के लिए पार्टी के स्टार प्रचारकों की लिस्ट मुख्य र्निवाचन आयुक्त को सौंप दी.

स्टार प्रचारकों की लिस्ट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमित शाह समेत 40 वरिष्ठ नेताओं  का नाम है. जो पहले चरण और दूसरे चरण के चुनावों के लिए पार्टी के प्रचार की कमान संभालेंगे. लेकिन इस लिस्ट में बीजेपी के कद्दावर नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर और वरुण गांधी को शामिल नहीं किया गया है. वहीं गोरखपुर से लोकसभा सांसद योगी आदित्यनाथ को स्टार प्रचारकों में शामिल किया गया है.

स्टार प्रचारकों में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, वित्तमंत्री अरुण जेटली, वेंकैया नायडू, स्मृति ईरानी, उमा भारती, कलराज मिश्र, मेनका गांधी, राम विलास पासवान, मुख्तार अब्बास नकवी, पीयूष गोयल, महेश शर्मा, संजीव बालियान, वी के सिंह, साध्वी निरंजन ज्योति, संतोष गंगवार जैसे बीजेपी के कद्दावर नेता शामिल हैं.

इसके अलावा रामलाल, बीजेपी उपाध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश प्रभारी ओम प्रकाश माथुर, प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया, मथुरा से सांसद हेमामालिनी, शिव प्रकाश, सुनील बंसल, राजवीर सिंह, कौशल किशोर, मनोज तिवारी, स्वामी प्रसाद मौर्य, एसपी सिंह बघेल, हुकुम सिंह भी प्रचार में लगेंगे. इनके अलावा सांसद रामशंकर कठेरिया, रविकांत गर्ग, भूपेन्द्र यादव, बी एल वर्मा, नरेंद्र कश्यप, अवतार सिंह भडाना और लोकेश प्रजापति को भी चुनाव प्रचार में लगाया जाएगा.

Loading...

Uttar Pradesh: List of BJP leaders who will be campaigning for the party in the upcoming

यूपी में सात चरणों में होंगे चुनाव

उत्तर प्रदेश में 11 फरवरी से 8 मार्च के बीच सात चरणों में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं. कांग्रेस, राष्ट्रीय लोक दल और समाजवादी पार्टी के अखिलेश धड़े के बीच गठबंध के बावजूद बहुकोणीय मुकाबला देखने को मिलेगा.

केंद्र में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने के बाद जिस तरह से बीजेपी को दिल्ली और बिहार में करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा है, वैसे में उत्तर प्रदेश का चुनाव प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है.

मुख्यमंत्री चेहरे को सामने न लाकर एक बार फिर बीजेपी ने पीएम मोदी के चेहरे पर दांव खेला है. इसका कितना फायदा उसे इन चुनावों में मिलेगा वह 11 मार्च को सामने आ ही जाएगा.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *