Wednesday , March 3 2021
Breaking News

समाजवादी पार्टी में भगदड़, भाजपा में शामिल हुए सपा विधायक

लखनऊ। पारिवारिक कलह के बीच समाजवादी पार्टी का दो धड़ों में बंटना लगभग तय माना जा रहा है। टिकट पर असमंजस और सुरक्षित भविष्य की तलाश में सपा नेताओं में भगदड़ का माहौल है। राजनीतिक जानकारों की मानें तो सपा में पहले चाचा-भतीजे फिर बाप-बेटे में छिड़ी वर्चस्व की जंग के बीच सपा नेताओं को अपना भविष्य पिसता नजर आ रहा है। उन्हें समझ नहीं आ रहा है कि अखिलेश के खेमे में जाएं या मुलायम-शिवपाल के। इसलिए जिसे जैसे ही मौका मिलता है, दूसरे दल में शामिल हो जाता है।
सोमवार को उन्नाव के भगवंत नगर सीट से सपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने भाजपा का थामन लिया। उनके साथ ही उनकी पत्नी और जिला पंचायत बोर्ड की चेयरमैन भी बीजेपी में शामिल हो गईं। इससे पहले शनिवार को आगरा के बाह विधानसभा क्षेत्र से तीन बार विधायक रहे राजा अरिदमन सिंह ने पत्नी पक्षालिका सिंह व बेटे समेत सपा छोड़कर भाजपा की सदस्यता ले ली। वहीं, शुक्रवार को अखिलेश के खास सपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अशोक प्रधान भी भाजपा में शामिल हो गए।
सूत्रों की मानें तो सपा के दर्जनों विधायक सपा की कलह से तंग आकर भाजपा का दामन थाम सकते हैं। ये सभी विधायक भाजपा यूपी प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य के संपर्क में लगातार बने हुए हैं। पार्टी से टिकट कन्फर्म ना होने की स्थिति में ये सभी विधायक बीजेपी में शामिल होने की कवायद में जुटे हुए हैं।
सपा विधायक नन्दिता शुक्ला भाजपा में शामिल हो सकती हैं
रविवार देर शाम मेहनौन से सपा विधायक नन्दिता शुक्ला ने पार्टी इस्तीफा दे दिया। उनके भाजपा में शामिल होने की अटकलें तेज हैं। फिलहाल अभी कोई पुष्टि नहीं हुई है। करीबी सूत्रों के मुताबिक उनके पुत्र राहुल शुक्ला को बीजेपी का मेहनौन से उम्मीदवार बनाया जाना लगभग फाइनल हो गया है। बता दें कि नंदिता शुक्ला पूर्व विधायक व मंत्री रहे घनश्याम शुक्ला की पत्नी हैं। उनकी हत्या हो गई थी। हत्या का आरोप बाहुबली मुख्तार अंसारी पर लगा था।
बताया यह भी जा रहा है कि समाजवादी पार्टी के एक दर्जन और विधायक पाला बदलने की फिराक में हैं। इसके लिए वो टिकट के लिए जुगाड़ लगा रहे हैं।
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *