Breaking News

टीसीएस के पूर्व सीईओ नटराजन चंद्रशेखरन बने टाटा संस के चेयरमैन

मुंबई। टीसीएस के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ रहे नटराजन चंद्रशेखरन को टाटा संस का नया चेयरमैन नियुक्त किया गया है। वह अंतरिम चेयरमैन रतन टाटा की जगह लेंगे। वह 21 फरवरी, 2017 से जिम्मेदारी संभालेंगे। पिछले साल 24 अक्टूबर को समूह के चेयरमैन साइरस मिस्त्री को अपदस्थ कर रतन टाटा ने अंतरिम चेयरमैन के तौर पर समूह की कमान संभाल ली थी। तब से ही 150 साल पुराने इस ग्रुप के नियमित चैयरमैन की तलाश जारी थी, जो चंद्रशेखरन के तौर पर पूरी हुई है। वह पहले टाटा संस के पहले गैर-पारसी चेयरमैन होंगे। उनके स्थान पर अब राजेश गोपीनाथन टीसीएस के सीईओ के तौर पर कमान संभालेंगे।

मूलत: तमिलनाडु के नटराजन चंद्रशेखरन को नई तकनीक पर बड़े दांव लगाने वाले टेक्नो आंत्रप्रेन्योर के तौर पर जाना जाता रहा है। टाटा संस के चेयरमैन पद से सायरस मिस्त्री को हटाए जाने के बाद पेप्सिको इंक की हेड इंद्रा नूयी, वोडाफोन ग्रुप के फॉर्मर हेड अरुण सरीन और टाटा ग्रुप की रिटेल यूनिट के चेयरमैन नोएल टाटा जैसे दिग्गजों के भी इस पद पर आने के कयास लग रहे थे। इसके अलावा टीसीएस के ही पूर्व सीईओ एस रामादोराई और जगुआर लैंड रोवर के बॉस राल्फ स्पेथ के नाम भी इस दौड़ में शामिल बताए जा रहे थे। लेकिन, अंत में समूह की आतंरिक व्यवस्था में शामिल व्यक्ति को ही कमान सौंपने का फैसला लिया गया।

5 सदस्यीय कमिटी ने किया चुनाव
54 वर्षीय चंद्रशेखरन को मुंबई में आयोजित टाटा संस की बोर्ड मीटिंग में चेयरमैन नियुक्त करने का फैसला लिया गया। इस चयन की सिफारिश पांच सदस्यीय सर्च कमिटी ने की थी। इस कमिटी में रतन टाटा, टीवीएस ग्रुप के हेड वेणु श्रीनिवासन, बेन कैपिटल के अमित चंद्रा, पूर्व राजनयिक रोनेन सेन और लॉर्ड कुमार भट्टाचार्य शामिल थे।

Loading...

चंद्रशेखरन की लीडरशिप में 3 गुना बढ़ी TCS की आमदनी
2009 में चंद्रशेखरन ने बतौर सीईओ और एमडी टीसीएस की कमान संभाली थी। उनके नेतृत्व में टीसीएस की आमदनी 2010 के 30,000 करोड़ से तीन गुना बढ़कर वित्त वर्ष 2016 में 1.09 लाख करोड़ रुपये हो गई। मुनाफा भी 7,093 करोड़ से तीन गुना बढ़कर 24,375 करोड़ रुपये हो गया। टाटा ग्रुप के कंबाइंड मार्केट कैप 116 अरब डॉलर में 60% योगदान टीसीएस का है। टाटा संस के रेवेन्यू में इसका 70% योगदान है।

30 साल से थे टाटा समूह का हिस्सा
एन. चंद्रशेखरन ने इंटर्न के तौर पर 1987 में कंपनी जॉइन की थी। 25 अक्टूबर, 2016 को उन्हें कंपनी के बोर्ड में डायरेक्टर नियुक्त किया गया था।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *