Friday , November 27 2020
Breaking News

‘सैलरी में कटौती के बाद विरोधी गुट में शामिल हो रहे हैं IS के लड़ाके’

briten isisवॉशिंगटन। हाल ही में इस्लामिक स्टेट (आईएस) की हार से उसकी बिगड़ती माली स्थिति, लोगों के छोड़कर जाने और लड़ाकों के कम होने की बात उजागर होती है, जिनमें से अधिकतर पगार में कमी के बाद प्रतिद्वंद्वी आतंकवादी समूहों में शामिल हो रहे हैं। यह दावा एक अखबार की खबर में किया गया है।

वॉशिंगटन पोस्ट की खबर में विश्लेषकों और निगरानी समूहों के हवाले से कहा गया है कि आतंकवादी संगठन को पिछले कुछ समय में हुए नुकसान की वजह उसके लड़ाकों को वेतन देने में और छोड़ गए या मारे गए आतंकवादियों की जगह नयों की भर्ती करने के संघर्ष से जुड़ी है।

अमेरिका के समर्थन वाले कुर्दिश और अरब के बलों ने इराक और सीरिया के काफी हिस्से में आतंकवादी संगठन के बडे नियंत्रण वाले क्षेत्र पर कब्जा कर लिया है। प्रिंसटन यूनिवर्सिटी में राजनीति विज्ञान पढ़ाने वाले और इस्लामिक स्टेट मामलों के विशेषज्ञ जैकब शापिरो के हवाले से अखबार ने लिखा, ‘ये मुद्दे सुझाते हैं कि इस्लामिक स्टेट टिक नहीं पाएगा।’

Loading...

अखबार ने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के बेल्फर सेंटर में सीरिया और इराक के सशस्त्र समूहों के मामले की विशेषज्ञ वेरा मिरोनोवा के हवाले से लिखा है कि इस्लामिक स्टेट छोड़कर चले जाने वाले लड़ाकों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *