Wednesday , March 3 2021
Breaking News

सपा घमसान के बीच सीएम अखिलेश ने अचानक लिखी मोदी सरकार के इस केंदीय मंत्री को चिट्ठी!

लखनऊ। एक तरफ जहां समाजवादी पार्टी की कमान को संभालने के लिए पिता-पुत्र और चाचा-भतीजे में जंग छिड़ी हुई है. तो वहीं समाजवादी पार्टी के नए अध्यक्ष की कुर्सी पर बैठने वाले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने वित्तमंत्री अरुण जेटली को अचानक एक पत्र लिखा है. इस पत्र के जरिए उन्होंने एक बड़ी मांग भी की है. उन्होंने कहा है, ’20 करोड़ की आबादी के यूपी में 50 दिन से अफरा-तफरी मची हुई है. मजदूर, किसान, गरीब का समय सिर्फ बैंकों में ही बर्बाद हो रहा है. किसानों के हालात सुधारने को नगद निकासी सीमा बढ़ाया जाए.

मुख्यमंत्री अखिलेश ने वित्तमंत्री अरुण जेटली को लिखी इस चिट्ठी में किसानों की नगद निकासी 24 हजार से बढ़ाई जाने की मांग के साथ साथ यह भी कहा है, ‘राष्ट्रीय आपदा मोचक निधि की धनराशि शीघ्र उपलब्ध कराई जाए. मेट्रो की परियोजनाओं मंजूरी के साथ समुचित सहायता मिले. पुलिस बल आधुनिकीकरण योजना की धनराशि शीघ्र दी जाए. UP में इंफ्रास्ट्रक्चर में निवेश करें ताकि रोजगार के अवसर बढ़ें बुंदेलखंड की योजनाओं पर केन्द्र सहायता उपलब्ध कराए.’

Loading...

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव इससे पहले भी कई बार नोटबंदी के ऐलान के बाद प्रधानमंत्री को पत्र लिख चुके हैं. हालांकि इस बार उन्होंने अपने पत्र के जरिए और भी कई मांगे की है. मालूम हो कि सोमवार को प्रधानमंत्री मोदी की लखनऊ में रैली थी. जिसके संबोधन में उन्होंने सपा सरकार पर जमकर निशाना साधा था. पीएम यह भी कहा था कि अखिलेश सरकार राज्य में विकास का कार्य नहीं कर रही है. साथ ही कई फण्ड और योजनाओं का दावा भी उन्होंने रैली के दौरान किया था. जिसके कुछ देर बाद ही सीएम अखिलेश यह लेटर बम फोड़ दिया है.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *