Breaking News

अफगान एयरफोर्स की पहली महिला पायलट ने US से मांगी शरण

rehmaniवॉशिंगटन। अफगानिस्तान एयरफोर्स की पहली महिला पायलट ने अपनी जान को खतरा होने की वजह से अमेरिका से शरण मांगी है। कैप्टन निलोफर रहमानी साल 2013 में खबरों में आईं थीं। उन्होंने अपने परिवार का विरोध कर टेक्सस में पायलट ट्रेनिंग प्रोग्राम जॉइन किया था।

वह कई बार जान से मारने की धमकी मिलने के बावजूद अपने फैसले पर अडिग रहीं और ट्रेनिंग पूरी की। लेकिन अब निलोफर का कहना है कि उनके देश में स्थितियां दिनोंदिन बदतर होती जा रही हैं और अब उनके पास शरण मांगने के अलावा और कोई विकल्प नहीं बचा है।

Loading...

निलोफर ने वॉल स्ट्रीट जर्नल को कहा, ‘मैं अपने देश के लिए उड़ना पसंद करूंगी, मैं हमेशा यही करना चाहती थी. लेकिन मुझे अपनी जान जाने का डर है।’ निलोफर ने कहा कि अगर उन्हें शरण मिल जाती है तो भी वह यूएस एयरफोर्स के साथ या फिर कमर्शियल पायलट के तौर पर प्लेन उड़ाना जारी रखेंगी। बता दें कि रहमानी को यूएस स्टेट डिपार्टमेंट के इंटरनैशनल वीमिन ऑफ करेज अवॉर्ड 2015 से नवाजा जा चुका है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *