Breaking News

राहुल गांधी के ‘फ्लॉप शो’ के बाद अब प्रियंका के सहारे कांग्रेस !

priyanka-rahulनई दिल्ली। नोटबंदी पर कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार का जितना विरोध किया उससे पार्टी को फायदा कम और नुकसान ज्‍यादा होता हुआ दिखाई पड़ा। पार्टी उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी का विरोध भी बहुत कारगर साबित नहीं हुआ। हर बार उनकी सोशल मीडिया में जमकर खिंचाई हुई। नोटबंदी के विरोध में राहुल गांधी एटीएम की लाइन में लगे तो लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नारे लगाने शुरु कर दिए। कांग्रेस ने संसद नहीं चलने दी तो देश की जनता उससे नाराज होती नजर आई। नोटबंदी को लेकर राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र के खिलाफ भ्रष्‍टाचार के सबूत होने के दावा किया तो ये दांव भी उनके उल्‍टा पड़ गया। राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी की ओर से जिस सहारा की डायरी का जिक्र किया गया उसमें दिल्‍ली की पूर्व मुख्‍यमंत्री शीला दीक्षित का नाम भी निकल आया।

जिसके बाद शीला दीक्षित ने ही राहुल गांधी की ओर से जारी किए गए दस्‍तावेजों पर सवाल खड़े कर दिए और इसे एक तरह से फर्जी करार दे डाला। लेकिन, सूत्र बताते हैं कि कांग्रेस और पार्टी उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी नोटबंदी पर एक स्‍टैंड ले चुके हैं ऐसे में अब वो इससे पीछे नहीं हट सकते हैं। लिहाजा अब नोटबंदी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र की सरकार को घेरने के लिए कांग्रेस पार्टी को प्रियंका गांधी का ही भरोसा दिख रहा है। सूत्र बताते हैं क‍ि नोटबंदी पर कांग्रेस पार्टी का रुख तय करने और मोदी सरकार को घेरने और उस पर हमला करने की रणनीति के लिए पार्टी ने एक विशेष कमेटी की गठन किया है। कांग्रेस पार्टी की इस कमेटी में प्रियंका गांधी भी शामिल हैं। जिसे काफी महत्‍वपूर्ण माना जा रहा है।

Loading...

मोदी सरकार के खिलाफ कांग्रेस पार्टी की रणनीति तैयार करने और इतने अहम मुद्दों में प्रियंका गांधी के शामिल से पार्टी के भीतर से ये साफ संकेत मिल रहे हैं कि पार्टी के भीतर उनकी भूमिका और प्रभाव लगातार बढ़ता जा रहा है। इससे पहले भी यूपी चुनाव की तैयारियों को लेकर कई बैठकों में वो शामिल रह चुकी हैं। इलेक्‍शन से जुड़े तमाम मसलों पर उनकी राय भी महत्‍वपूर्ण भ‍ूमिका निभाती है। हालांकि पार्टी के सूत्रों का कहना है कि प्रियंका गांधी की इस तरह की कमेटी में मौजूदगी पूरी तरह अनौपचारिक है। लेकिन, आधिकारिक तौर पर उनके पार्टी से जुड़ने और काम संभालने की चर्चा भी अकसर सुर्खियों में रहती हैं। इस बार कांग्रेस पार्टी चाहती है कि यूपी विधानसभा चुनाव में वो बीजेपी को नोटबंदी को लेकर घेरें।

 लेकिन, कांग्रेस पार्टी के तमाम नेता इस बात को बखूबी जानते हैं कि अभी तक पार्टी का नोटबंदी को लेकर जो भी अभियान रहा है उसे बहुत सफल करार नहीं दिया जा सकता है। लेकिन, पार्टी के भीतर ये बात बोलने की किसी की हिम्‍मत नहीं  है। फिलहाल अब आगे की तैयारी और रणनीति को लेकर पार्टी में 27 दिसंबर को महत्‍वपूर्ण मीटिंग बुलाई गई है। जिसमें प्रियंका गांधी, राहुल गांधी समेत कई नेता शामिल होंगे। बताया जा रहा है कि इस मीटिग में इस बात पर चर्चा होगी कि नोटबंदी के विरोध को आगे कैसे बढ़ाया जाए। पार्टी के वरिष्‍ठ नेताओं से इस बारे में सलाह ली जाएगी। इसके बाद ही कोई रणनीति और कार्ययोजना  तैयार की जाएगी। इसके साथ ही अब तक के विरोध की समीक्षा भी होगी।
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *