Breaking News

जन धन खाता धारकों को केंद्र सरकार की सौगात, पीएम मोदी की तरफ से दिए जाएंगे 10 हजार रूपये !

bus-1नई दिल्ली। नोटबंदी के बााद से लगातार केंद्र सरकार पर हमला किया जा रहा है। विपक्षी दलों का कहना है कि सरकार के इस फैसले से आम जनता को सबसे ज्यादा तकलीफ उठानी पड़ रही है। खास तौर पर गरीब और मजदूर वर्ग को। बैंकों और एटीएम के बाहर लंबी लंबी लाइनें अभी तक लगी हई हैं। नोटबंदी के बाद सरकार को घेरने के लिए पूरा विपक्ष एक हो गया था। संसद का शीतकालीन सत्र नोटबंदी के बाद हुए हंगामे की भेंट चढ़ गया था। मोदी सरकार को भी लग रहा था कि कहीं इस से जनता नाराज न हो जाए। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता से अपील की थी कि 50 दिन के अंदर हालात सामान्य हो जाएंगे। हालांकि सरकार की तरफ से लगातार कोशिशें की जा रही है कि करेंसी का संकट खत्म हो लेकिन उसका भी ज्यादा असर नहीं हो रहा है।

मोदी सरकार के लिए परेशानी की बात ये है कि अगले साल 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। अगर नोटबंदी का विपरीत असर इन चुनावों में देखने को मिला तो बीजेपी के लिए परेशानी खड़ी हो जाएगी। पीएम मोदी ने जाहिर तौर पर इस स्थिति के बारे में पहले ही सोच लिया होगा। यही कारण है कि वो लगातार जनता को राहत देने वाले फैसले कर रहे हैं। अगले साल आम बजट में टैक्स में राहत देने की भी चर्चा है। ऐसे में अब मोदी सरकार ने देश के मजदूरों और गरीबों के लिए शानदार योजना शुरू करने का फैसला किया है। इस फैसले का असर अगले साल होने वाले 5 राज्यों के विधानसभा चुनाव पर पड़ना तय माना जा रहा है। केंद्र सरकार ने देश में जन धन खाता धारकों को सौगात देने का फैसला किया है।

सूत्रों के मुताबिक केंद्र सरकार जन धन खाता धारकों को 10000 रूपये देने पर विचार कर रही है। अगर ऐसा होता है तो देश के सभी जन धन खाता धारकों की लॉटरी निकल जाएगी। सूत्रों के मुताबिक मोदी सरकार जीरो बैलेंस वाले जन धन खातों में प्राथमिकता के आधार पर पैसा जमा कराने पर विचार कर रही है। अगर ऐसा होता है तो ये देश के मजदूर वर्ग के लिए सबसे बड़ी सौगात होगी। खास बात ये है कि अगर ये योजना मंजूर हो जाती है तो सबसे पहले उत्तर प्रदेश, पंजाब और गोवा में इसको अमल में लाया जाएगा वो भी चुनाव से पहले। इस योजना के जरिए पीएम मोदी चुनाव से पहले हर खाते में 15 लाख जमा करना के अपने वादे और नोटबंदी के नुकसान से भी बच जाएंगे। साथ ही इसका फायदा बीजेपी को मिलेगा।

Loading...

अब यहां पर ये भी समझना जरूरी है कि आखिर ऐसा होगा कैसे। सबसे पहले तो आपको जानकारी दे दें कि नोटबंदी के बाद से अब तक देश में जनधन खातों में कितने पैसे जमा हुए हैं। अब तक नोटबंदी के बाद जनधन खातों में 64,252.15 करोड़ रुपये जमा हुए हैं। ये आंकड़े वित्त राज्य मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने लोकसभा में दी थी। जिसके मुताबिक पूरे देश में नबंवर तक लगभग 25 करोड़ खातों में 64,252.15 करोड़ रुपये जमा हुए हैं। बता दें कि सबसे ज्यादा जन धन खाते उत्तर प्रदेश में हैं। यूपी में 3.79 करोड़ खाते हैं जिनमें 10,670.62 करोड़ रुपए जमा हुए हैं। दूसरे नंबर पर बंगाल और तीसरे नंबर पर राजस्थान है। इन आंकड़ों को देखते हुए केंद्र सरकार जनधन खातों में 10 हजार रूपये डालने पर गंभीरता से विचार कर रही है। अगर ये फैसला ले लिया जाता है तो नोटबंदी के बाद पीएम मोदी का मास्टरस्ट्रोक माना जाएगा।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *