Breaking News

मिस्बाह ने रचा इतिहास, स्पिरिट ऑफ क्रिकेट अवार्ड पाने वाले पहले पाकिस्तानी

misbah_ul_haqदुबई। पाकिस्तान टेस्ट टीम के कप्तान मिस्बाह-उल-हक ने इतिहास रच दिया है। मिस्बाह साल 2016 के लिए इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) स्पिरिट ऑफ क्रिकेट अवॉर्ड दिया गया। 42 वर्षीय मिस्बाह पहले पाकिस्तानी खिलाड़ी हैं जिन्हें इस अवॉर्ड से नवाजा गया।

मिस्बाह को ये अवार्ड 2016 में उनके शानदार खेल, क्रिकेट के प्रति समर्पण और 42 साल की उम्र में भी फिट एंड हिट रहने के लिए मिला है।

आपको बता दें कि मिस्बाह की ही कप्तानी में पाकिस्तान इस साल नंबर चार से नंबर वन टेस्ट टीम की पोजिशन हासिल करते हुए ICC गदा पाई थी। पाकिस्तानी टीम बिना सरजमीं पर खेले ही टेस्ट में नंबर एक रैंकिंग तक पहुंची थी।

Loading...

मिस्बाह की ही कप्तानी में पाकिस्तानी टीम ने असली खेल भावना का परिचय दिया। 2011 में यह अवॉर्ड टीम इंडिया के कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी ने जीता था। इसके बाद डेनियल विटोरी(2012 ) महेला जयवर्धने (2013), केथरिन ब्रंट (2014) और ब्रेंडन मैक्कुलम (2015) यह अवॉर्ड जीत चुके हैं।

मिस्बाह ने इस अवॉर्ड को जीतने के बाद कहा, ‘मैं यह अवॉर्ड जीतकर सम्मानित महसूस कर रहा हूं। इस साल आईसीसी टेस्ट गदा उठाना और फिर यह सम्मान मेरे करियर की दो बड़ी उपलब्धियां हैं। मिस्बाह ने आगे कहा, ‘एक टीम के तौर पर हम अच्छी खेल भावना और सकारात्मकता से खेले हैं। हम इस माइंडसेट के साथ खेले कि विरोधी टीम को चुनौती देते हुए हमें लोगों का मनोरंजन करना है। हमें अच्छा लगा कि इसे नोटिस किया गया।’

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *