Tuesday , March 2 2021
Breaking News

गुजरात में राहुल का मोदी पर बड़ा हमला, लगाए पैसे लेने के आरोप

rahulmehsanaमेहसाणा। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को आखिरकार वो कथित ‘खुलासा’ कर ही दिया जिसकी वह पिछले कुछ दिनों से जानकारी होने का दावा कर रहे थे। गुजरात के मेहसाणा में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ वही आरोप दोहराए जिन्हें लेकर वकील प्रशांत भूषण ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी और कोर्ट ने उन्हें पुख्ता सबूत लाने को कहा था। राहुल ने इनकम टैक्स विभाग के कथित दस्तावेजों का हवाला देते हुए पीएम मोदी पर आरोप लगाया कि उन्होंने सहारा और बिड़ला कंपनी से कई बार करोड़ों रुपये लिए। इसके अलावा राहुल ने नोटबंदी को आम लोगों के खिलाफ बताते हुए कहा कि इसका मकसद विजय माल्या जैसे ‘चोरों’ का कर्ज माफ करना था।

पाटीदार आंदोलन के गढ़ मेहसाणा में राहुल ने नोटबंदी को लेकर पीएम मोदी पर तीखे हमले किए। उन्होंने कहा कि देश में सिर्फ एक फीसदी बेईमान लोग हैं जिनके लिए प्रधानमंत्री ने 99 प्रतिशत ईमानदार लोगों को परेशान किया। उन्होंने आरोप लगाया कि नोटबंदी के पीछे सरकार का मकसद सिर्फ अमीर लोगों का बैंक लोन माफ करना है। राहुल ने कहा, ‘मोदी जी की सरकार ने विजय माल्या जी को 1200 करोड़ की टॉफी दी, उनका 1200 करोड़ रुपये का कर्जा माफ कर दिया। इस चोर का पैसा आपने क्यों माफ किया?

राहुल ने अपने भाषण में उस कथित जानकारी का भी ‘खुलासा’ किया जिसे लेकर वह पिछले कई दिनों से दावा कर रहे थे। उन्होंने इनकम टैक्स विभाग के कथित दस्तावेजों का हवाला देते हुए कहा कि 22 नवंबर 2014 को सहारा कंपनी पर पड़े छापे में पीएम मोदी को कथित तौर पर करोड़ों रुपये देने की बात सामने आई, पर आज तक उसकी कोई जांच नहीं कराई गई। उन्होंने दावा किया कि मोदी को 9 बार करोड़ों रुपये दिए गए। राहुल ने दावा किया इन कथित दस्तावेजों पर इनकम टैक्स विभाग के अधिकारियों के हस्ताक्षर हैं।

मोदी सरकार की कालेधन के खिलाफ कार्रवाई को दिखावा बताते हुए राहुल ने कहा, ‘चुनाव से पहले 2014 में मोदी जी ने बहुत भाषण दिए, हर भाषण में कहा कि काला धन विदेशी बैंक अकाउंट में हैं। उन्होंने कहा था कि हम वापस लाएंगे, सभी को 15 लाख देंगे। उन्होंने कैश की बात नहीं कही थी।’ राहुल ने दावा किया कि स्विट्जरलैंड की सरकार ने स्विस बैंक अकाउंट होल्डर्स के नाम सरकार को भेज दिए हैं, पर सरकार उनका खुलासा संसद में नहीं कर रही है।

Loading...

नोटबंदी को लोगों पर बमबारी करार देते हुए राहुल ने कहा, ‘एक फीसदी लोगों को निशाने बनाने के बजाय 99 फीसदी लोगों को निशाना बनाया गया। मोदी जी ने 50 परिवारों के खिलाफ नहीं…किसान, मजदूर, मिडिल क्लास पर सर्जिकल स्ट्राइक की। उन्होंने कहा कि मोदी किसानों का लोन माफ करने के बजाय अमीरों का लोन माफ करते हैं। इसके अलावा कैशलेस इकॉनमी बनाने को लेकर पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए राहुल ने कहा, ‘ कैशलेस ट्रांजैक्शन का मकसद कंपनियों को 5-6 फीसदी कमीशन दिलवाना है। यही है मोदी जी की कैशलेस इकॉनमी।’

राहुल गांधी के आरोपों पर बीजेपी की प्रतिक्रिया देते हुए बीजेपी नेता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा है कि राहुल सुर्खियों में आने के लिए ऐसे आरोप लगा रहे हैं, पार्टी उनके खिलाफ मानहानि का मुकदमा नहीं करेगी।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *