Breaking News

करूण नायर की ट्रिपल सेंचुरी के बाद भारत ने पारी घोषित की, 283 का लक्ष्य दिया

nayarचेन्नई । करुण नायर के शानदार 303 रन की बदौलत भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें और अंतिम टेस्ट मैच के चौथे दिन सात विकेट के नुकसान पर 759 रन बनाकर पारी घोषित कर दी और इंग्लैंड को जीत के लिए 283 रन का लक्ष्य दिया. नायर ने आज शानदार पारी खेली और अपने तिहरे शतक के साथ भारत के दूसरे खिलाड़ी बने जिन्होंने यह गौरव हासिल किया है. उनसे पहले ट्रिपल सेंचुरी लगाने का रिकार्ड वीरेंद्र सहवाग के नाम दर्ज है.

आज यहां चाय विश्राम के बाद छह विकेट के नुकसान पर 751 रन बना लिया और इंग्लैंड पर 274 रन की बढ़त बना ली है. भारत ने चाय के विश्राम तक पांच विकेट पर 582 रन बनाकर अपनी स्थिति मजबूत कर ली. एम ए चिदंबरम स्टेडियम में खेले जा रहे मैच में राजस्थान में जन्में और कर्नाटक की तरफ से खेलने वाले 25 वर्षीय नायर अभी क्रीज पर डटे हुए हैं.

एम ए चिदंबरम स्टेडियम में खेले जा रहे मैच में राजस्थान में जन्में और कर्नाटक की तरफ से खेलने वाले 25 वर्षीय नायर अभी क्रीज पर डटे हुए हैं. उनकी 303 गेंदों की पारी में 22 चौके और एक छक्का शामिल हैं. रविचंद्रन अश्विन ( नाबाद 54 ) ने उनका बखूबी साथ निभाया है. इन दोनों ने छठे विकेट के लिए अब तक 147 रन जोड दिये हैं जिससे भारत ने पहली पारी में 105 रन की बढत हासिल कर ली है. इंग्लैंड ने अपनी पहली पारी में 477 रन बनाये थे.

Loading...

भारत ने सुबह चार विकेट पर 391 रन से आगे खेलते हुए पहले सत्र में 72 रन जोडे और मुरली विजय ( 29 ) का विकेट गंवाया लेकिन दूसरे सत्र में नायर और अश्विन ने इंग्लैंड को कोई सफलता हाथ नहीं लगने दी. इस दौरान इन दोनों ने 119 रन जोड़े. अश्विन ने अपने फिर से अपने बल्लेबाजी कौशल का अच्छा नजारा पेश किया. उन्होंने अब तक 130 गेंदें खेलकर पांच चौके और एक छक्का लगाया है.

अश्विन को चाय के विश्राम से ठीक पहले मध्यम गति के गेंदबाज कीटन जेनिंग्स की गेंद पर पगबाधा आउट दे दिया गया था. भारतीय खिलाडी ने इस पर निर्णय समीक्षा प्रणाली का सहारा लिया और रीप्ले में पता चला कि गेंद लेग स्टंप से बाहर जा रही है. इस तरह से जेनिंग्स अपना पहला विकेट लेने से चूक गये. अगर कल भारतीय पारी का आकर्षण सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल ( 199 ) का लाजवाब शतक रहा तो आज नायर ने वही कमाल दिखाया. उन्होंने सुबह के सत्र में लियाम डॉसन पर छक्का जडा और फिर बेन स्टोक्स की गेंद चार रन के लिये भेजकर अपना पहला टेस्ट शतक पूरा किया. इसके बाद भी वह सहजता से रन बटोरते रहे.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *