Breaking News

Axis बैंक छापा: फर्जी फर्म्स के खातों में 60cr

mnनोएडा। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट एक्सिस बैंक का पीछा नहीं छोड़ रहा है। देश के कई हिस्सों से बैंक में फर्जी खाते और ब्लैकमनी का मामला अब नोएडा पहुंच चुका है। गुरुवार सुबह की गई छापेमारी में कई कंपनियों के फर्जी खाते सामने आए हैं। बताया जा रहा है कि इनसे करीब 60 करोड़ रुपये की ब्‍लैकमनी पकड़ी गई है। इन सभी खातों को सीज कर दिया गया है। बैंंक को बंद कर दिया गया है। इस मामले में बैंक का कोई अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। वहीं इनकम टैक्स के अधिकारी कुछ भी कहने से बचते हुए दिखाई दे रहे हैं। खबर लिखे जाने तक आयकर विभाग की टीम बैंक के अंदर छानबीन कर रही थ्‍ाी। उधर, बैंक बंद होने की वजह से कई लोगों ने बैंक के बाहर हंगामा भी किया।
axis bank
प्राप्त जानकारी के अनुसार, इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की टीम ने सेक्टर-51 के एक्सिस बैंक की शाखा में छापा मारकर 20 कंपनियों के फर्जी खातों का खुलासा किया है। इस खुलासे के बाद से पूरे नोएडा में हड़कंप मच गया है। इन कंपनियों के नामों के बारे में कुछ भी नहीं पता चल सका है। ऐसे में सभी खातों को सीज कर बैंक पर भी ताला लटका दिया गया है। आपको बता दें कि दिल्ली और देश के बाकी हिस्सों में एक्सिस बैंक में फर्जी खाते और ब्लैकमनी जमा होने की बात सामने आ चुकी है। ऐसे में नोएडा में फर्जी खाते मिलना बड़ी बात मानी जा रही है। इससे पहले नोएडा में बिल्डर्स पर ही फोकस किया हुआ था। नोएडा के अंदर बैंक पर इस तरह का पहला मामला सामने आया है।
जानकारी के अनुसार इन कंपनियों के बैंक खातों में 60 करोड़ रुपए सामने आए हैं। रिकॉर्ड खंगालने के बाद पता चला है कि इन सभी कंपनियों के खातों में ये रुपया नोटबंदी के बाद जमा हुआ हैं। ऐसे में इसे ब्लैकमनी कहा जा रहा है। ताज्जुब की बात तो ये है कि इससे पहले इन खातों कभी जमा ही नहीं हुआ था। जानकारी के अनुसार बैंक के अफसरों से इस बारे में बात की जा रही है। ऐसे में एक्सिस बैंक का क्या भविष्य होगा, ये तो वक्त ही बताएगा।
गुरुवार को जब सेक्टर-51 के खाताधारक पहुंचे तो वहां पर कार्र्रवाई की बात सुनकर वहीं जमा हो गए। खाताधारक भी इस समय में पूरी तरह से टेंशन में हैं। कई लोगों के खाते इस बैंक में हैं। ऐसे में इन लोगों को खातों का भविष्य अधर में एक बार लटक गया है। कई लोगों द्वारा हंगामा करने की बात भी सामने आई है। लोगों को शांत करने की पूरी कोशिश की जा रही है। खबर लिखे जाने तक वहां पर भीड़ जुटी हुई थी।
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *