Wednesday , December 2 2020
Breaking News

सेक्शुअल हैरेसमेंट: सरदार सिंह ने नकारे आरोप, लड़की ने कहा- छोड़ूंगी नहीं

capture-sardarलुधियाना। इंडियन हॉकी टीम के कैप्टन सरदार सिंह का कहना है कि उन पर सेक्शुअल हैरेसमेंट और जबर्दस्ती अबॉर्शन का आरोप लगा रही ब्रिटेन की महिला हॉकी प्लेयर सिर्फ उनकी दोस्त थी। उन्होंने कुछ गलत नहीं किया है। इस बीच, लड़की का कहना है कि वह सिंह के खिलाफ कानूनी कार्रवाई जरूर करेगी।
आरोपों पर बोले सरदार सिंह- फेसबुक के जरिए बातचीत शुरू हुई थी…
– सरदार सिंह ने गुरुवार को लुधियाना में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि हम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं। फिर एक्शन लेंगे।
– उन्होंने कहा, ”हां, हमारी फेसबुक के जरिए बात शुरू हुई थी। हम मिले भी, लेकिन जैसे आरोप लगाए गए, वैसा कुछ भी नहीं है।”
– ”वो मेरे घर भी गई थी। जो आरोप हैं, मैं उस लेवल तक नहीं जा सकता।”
– ”मेरी जिंदगी में हॉकी सबसे जरूरी है। फिलहाल, मैं टीम के साथ बिजी हूं।”
– ”हालांकि, जो भी होगा उसे मैं फेस करूंगा। अबॉर्शन की बात गलत है। ये बात वो कह रही हैं?”
क्या है मामला…
– ब्रिटेन की महिला हॉकी प्लेयर ने सरदार सिंह पर सेक्शुअल हैरेसमेंट का आरोप लगाया है।
– 21 साल की यह लड़की खुद को सिंह की मंगेतर बता रही है।
– अपनी शिकायत में उसने कहा है कि सिंह ने उसका जबरन अबॉर्शन कराया।
– लुधियाना पुलिस ने शिकायत की जांच के लिए एसआईटी बनाई है।
कौन करता था सोशल मीडिया पर पोस्ट?
– सरदार सिंह से पूछा गया कि उनकी दोस्ती और रिश्ते को लेकर सोशल मीडिया पर कौन पोस्ट करता था? इस पर उन्होंने कहा, ”मेरा टि्वटर और जीमेल अकाउंट मेरे दोस्त भी यूज करते थे। उन्होंने बात की होगी तो मुझे पता नहीं, लेकिन मैंने उसके साथ कुछ भी गलत नहीं किया।”
– ”मैं स्पेन में खेल रहा था। मेरे दोस्तों से पासवर्ड लेकर वो मेरे ट्वीट को रीट्वीट कर देती थी।”
– ”मैंने हॉकी इंडिया को इस बारे में बता दिया था। शादी की बातें भी वही रीट्वीट करती थीं।”
सरदार सिंह की सफाई पर लड़की ने क्या कहा?
– ”मैं पागल नहीं हूं जो इस तरह के आरोप लगाऊंगी। मेरे पास सबूत हैं।”
– “सच्चाई सरदार के दोस्त भी जानते हैं। सरदार पता नहीं क्यों सच्चाई छुपा रहे हैं। मेरे आरोप गलत नहीं हैं।”
– ”मैं उन्हें छोड़ूंगी नहीं। मैं उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करूंगी।”
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *