Breaking News

पंजाब में आप ने फिर शुरू की टिकट के लिए वसूली!

sanjay-singh-vinod-kumarनई दिल्ली। नोटबंदी की चोट खाने के बाद आम आदमी पार्टी पंजाब में फिर से संभलने की कोशिश में जी-जान से जुट गई है। इसी सिलसिले में अरविंद केजरीवाल खुद इन दिनों पंजाब में कैंप कर रहे हैं। बीते 2 दिन में पंजाब में आम आदमी पार्टी के टिकट के लिए अर्जी देने वाले कई पुराने वॉलेंटियर्स ने आरोप लगाया है कि टिकट के बदले में उनसे पैसे मांगे गए। सूत्रों के मुताबिक पार्टी के सीनियर नेता संजय सिंह और दुर्गेश पाठक खुद उम्मीदवारों से मिलकर उनसे सीट के हिसाब से एक करोड़ से 3 करोड़ रुपये तक मांग रहे हैं।

पंजाब के पठानकोट जिले की भोहा सीट से उम्मीदवार विनोद कुमार ने आरोप लगाया है कि संजय सिंह और दुर्गेश पाठक ने उससे टिकट के बदले एक करोड़ रुपये मांगे थे। उससे ये रकम पार्टी के फंड में जमा कराने को कहा गया। विनोद ने बताया कि जब मैंने कहा कि इतने पैसे तो मैं नहीं दे सकता, लेकिन एक बार मेरी अरविंद केजरीवाल से बात करा दीजिए। इस पर संजय सिंह ने मेरी फोन पर केजरीवाल से बात करा दी। जब मैंने उन्हें बताया कि टिकट के बदले ये लोग मुझसे एक करोड़ मांग रहे हैं तो जवाब में केजरीवाल ने कहा कि वो जो कह रहे हैं वैसा करो। केजरीवाल ने यह भी कहा कि इलेक्शन में बहुत पैसे खर्च होते हैं और पैसे के बिना काम नहीं चलेगा। इसके बाद संजय सिंह ने ऑफर किया कि या तो एक करोड़ रुपये देकर टिकट ले लो या 30 लाख रुपये लेकर अपनी उम्मीदवारी वापस ले लो। क्योंकि इस सीट से दूसरे लोग 2-2 करोड़ तक देने को तैयार हैं। बाद में विनोद को ही टिकट मिल गया, क्योंकि वास्तव में इस सीट पर कोई दावेदार था ही नहीं और विनोद को यहां से जीतने वाले उम्मीदवार के तौर पर काफी वक्त से देखा जा रहा था।

विनोद ने गुरुवार को चंडीगढ़ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके अपना टिकट लौटाने का एलान कर दिया। उन्होंने कहा कि जिस तरह से केजरीवाल ने मुझसे पैसे की बात की उससे ही मुझे समझ में आ गया कि यह पार्टी अब सिद्धांतों से भटक चुकी है। साथ ही पार्टी में कई लोग उसे हराने के लिए काम करने लगे थे। हालांकि विनोद ने टिकट लौटाने का कारण ‘पारिवारिक’ बताया है, लेकिन बताया जा रहा है कि वो पार्टी के अंदर ही एक गुट के दुश्मनी भरे रवैये से नाराज चल रहा था। विनोद ने यहां तक कहा कि शुरू में हम सभी बड़ी उम्मीदों से आम आदमी पार्टी से जुड़े थे, लेकिन आज पार्टी के बड़े नेताओं के लिए पंजाब बस पैसे कमाने का जरिया बनकर रह गया है।

विनोद कुमार के आरोपों से आम आदमी पार्टी में दिन भर हड़कंप मचा रहा। आनन-फानन में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके पंजाब के प्रभारी संजय सिंह को सफाई देनी पड़ी। संजय सिंह ने अपना रटा-रटाया वही जवाब दिया है जो वो टिकट के बदले पैसे लेने के पुराने आरोपों के वक्त देते रहे हैं। लेकिन संजय सिंह विनोद के दावों पर कुछ बोलने से बचते नज़र आए। इस घटना के बाद पार्टी ने फौरन अपना उम्मीदवार बदल दिया है।

नीचे लिंक पर क्लिक करके आप विनोद कुमार का बयान सुन सकते हैं:

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *